Education

What is BPO in Hindi? BPO क्या है? BPO vs KPO me Antar/Difference

What is BPO in Hindi
MN Hemant
Written by MN Hemant

What is BPO in Hindi? BPO क्या है?

Hi friends! क्या आप जानते हैं कि BPO क्या है? What is BPO in Hindi? कभी युवाओं के बिच BPO Sector काफी लोकप्रिय part time job हुआ करता था. पर अब इसकी तस्वीर ही बदल गई है.

आज के युवा इसे Full-time Career के साथ खुद के व्यक्तित्व निखारने के मौके के तौर पर देख रहे हैं. यही वजह है कि भारत सरकार BPO Sector में रोज़गार की व्यापक संभावनाओं को देखते हुए इसके विस्तार में लगी है.

सरकार ने अपने डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के तहत IBPS (India BPO Promotion Scheme) और NEBPS (North East BPO Promotion Scheme) को लागू किया था. इसका मकसद दूर-दराज के इलाकों में युवाओं के लिए रोजगार पैदा करना है.

खास बात यह है कि BPO Sector किसी भी विषय के ग्रेजुएट छात्र को अपने यहाँ करियर-निर्माण के बेहतर मौके देता है. तो आज मैं आपसे इसी विषय पर बात करने जा रहा हूँ कि BPO Kya Hai? What is BPO in Hindi? What is BPO Job in Hindi? BPO me kya kaam hota hai? BPO Meaning in Hindi.

What is BPO in Hindi BPO Kya Hai

इसके साथ ही यहाँ पर हम KPO के बारे में थोड़ी चर्चा करेंगे. जैसे कि KPO Kya Hota Hai? What is KPO in Hindi? BPO aur KPO me kya Antar hai? अगर आप भी BPO vs KPO in Hindi के बारे में जानना चाहते हैं, तो आज आप यह आर्टिकल What is BPO in Hindi अंत तक जरुर पढ़ें.

BPO क्या होता है? What is BPO in Hindi?

फ्रेंड्स, सबसे पहले हम यह जानते हैं कि आखिर BPO Kya Hai? अगर बात करें BPO Full Form in Hindi की, तो Business Process Outsourcing है जिसका मतलब है दूसरी कंपनी के लिए अपनी सेवाएँ देना. इस सेक्टर में नौकरियां दी ही इसलिए जाती हैं कि आप दूसरी कंपनियों का काम कर सकें.

अब काफी लोगों का सवाल यह भी हो सकता है कि BPO me Kya Kaam Hota Hai? तो ये कंपनियां content writing से जुडी हो सकती हैं, मेडिकल ट्रांसक्रिप्शन से, या फिर जो call centers होते हैं, वे भी BPO के अन्दर ही आते हैं. इस कंपनी के पास सॉफ्टवेर प्रोग्रामिंग का काम भी हो सकता है या फिर HR & Financial Services का. यहाँ तकनिकी या गैर-तकनिकी पेशेवर, देशी-विदेशी ग्राहकों की जरुरत के हिसाब से कंपनी को अपनी सेवाएँ देते हैं.

What is BPO in Hindi BPO Kya Hai

BPO Services में 50% की बढ़त अमेरिका और ब्रिटेन जैसे देश, कुशल और सस्ते कामगारों की वजह से अपना ज्यादातर काम भारत, बांग्लादेश, पाकिस्तान और एशिया के दुसरे देशों से करवाते हैं. दुनिया के कुल BPO बाजार का करीब 56 प्रतिशत भारत में है. निश्चित रूप से भारत में BPO Sector बढ़ रहा है. इससे मिलने वाले राजस्व में 54 प्रतिशत की बढ़त भी दर्ज की गई है. बीते वर्ष भारतीय BPO सेवाओं में 50 प्रतिशत की बढ़त दर्ज की गई है.



BPO vs KPO in Hindi

जहाँ पर BPO की बात हो रही हो, वहां KPO भी आ ही जाता है. अब समझते हैं कि KPO Kya Hota Hai? सबसे पहले KPO Full Form in Hindi की बात करें, तो Knowledge Process Outsourcing है. यह BPO से काफी मिलता-जुलता है.

आमतौर पर जहाँ BPO (Business Process Outsourcing) sector में data entry, processing, technical support जैसे काम किए जाते हैं, वहीं KPO (Knowledge Process Outsourcing) में ढेर सारे विकल्प हैं; जैसे research & development, business and market research, network management, medical services, etc.

इन दोनों में जिस तरह के काम करवाए जाते हैं, उसके अनुसार BPO aur KPO me Antar काफी ज्यादा है. वहीं BPO vs KPO in Hindi के बारे में और बात करें, तो KPO में जाने के लिए खास पढाई की जरुरत होती है, वहीं BPO में बुनियादी पढाई से भी काम चल जाता है.

Bilingual Career Options: What is BPO in Hindi?

भारत में BPO Sector क्षेत्र की सैकड़ों कंपनियां विभिन्न विदेशी भाषाओं में विदेशों को अपनी सेवाएँ दे रही हैं. इसलिए इस सेक्टर में रोजगार के लिए graduation degree के साथ English language पर बेहतर पकड होना जरुरी है.

कुछ क्षेत्रों में BPO के लिए अलग तरह की योग्यता की मांग रहती है. जैसे, मेडिकल या तकनीक से जुड़े क्षेत्र में शिक्षा प्राप्त युवाओं को नौकरी पाने में विशेष फायदा मिलता है. चूँकि विदेशी कंपनियों की व्यावसायिक गतिविधियों से सम्बंधित काम करना होता हिया, इसलिए कई भाषाओं का ज्ञान रखना बेहतर होता है.

अगर आप द्विभाषी (bilingual) हैं या आपको दो से भी अधिक भाषाएँ आती हैं, तो BPO Sector me Jobs मिलने के काफी ज्यादा अवसर हैं. इसके साथ ही BPO में काम करते हुए विदेश जाकर काम करने का मौका भी मिलता है. वजह ये है कि ज्यादातर BPO कंपनियों के विदेशों में दफ्तर भी होते हैं. जहाँ समय-समय पर कंपनी अपने कुछ कर्मचारियों को भेजती है.

Importance of English in BPO

विशेषज्ञ मानते हैं कि ज्यादातर BPO में नौकरी के आवेदन के समय कुछ विशेष चर्चा नहीं होती है. आमतौर पर उम्मीदवार की सिर्फ अंग्रेजी भाषा पर पकड को ही परखा जाता है. ऐसा इसलिए क्योंकि english भाषा communication के लिए काफी अच्छा रहता है. भारत के साथ-साथ देश के लगभग हर जगह में अंग्रेजी समझाने वाले आपको मिल ही जाएंगे.

What is BPO in Hindi


Experience: What is BPO in Hindi?

अगर कोई नया व्यक्ति (fresher) BPO या फिर KPO में नौकरी करना चाहते हैं, तो उन्हें Process Executive के तौर पर नौकरी तलाशनी चाहिए. अगर उम्मीदवार को IT के क्षेत्र का अच्छा अनुभव है तो वे BPO या फिर KPO क्षेत्र में Research & Analytics, Legal Services, Operation Management, Content Management, Data Analytics जैसे विभागों में नौकरी ढूंढ सकते हैं.

Salary: What is BPO in Hindi?

सभी लोग पैसे कमाने के लिए ही नौकरी करते हैं. तो अब आपका एक सवाल जरुर होगा कि BPO me Kitna Salary मिलता है? तो BPO Industry निरंतर ऊंचाई पर बनी रही है, इसलिए इस क्षेत्र में वेतन भी अच्छा मिलता है. भारत में BPO Sector में नौकरी की शुरुआत में 15,000 रूपए प्रति माह मिलते हैं. इसमें अनुभव के साथ इजाफा भी होते रहता है.

Conclusion: What is BPO in Hindi?

तो फ्रेंड्स, बस यहीं हैं कुछ Important Tips to Get BPO Jobs. मुझे आशा है कि आपको यह आर्टिकल What is BPO in Hindi? अच्छा लगा होगा. और अब आपको यह भी अच्छी तरह से समझ आ गया होगा कि BPO Kya Hai? BPO me Kya Kaam Hota Hai? What is BPO Jobs in Hindi?

What is BPO in Hindi? से सम्बंधित अगर आपके मन में किसी भी तरह का कोई सवाल हो, तो निचे Comment कर जरुर बताएं. अगर आप इसी तरह के और Career Guidance Articles in Hindi पढना चाहते हैं, तो आप हमारे Email Newsletter में अपना Email ID दे सकते हैं. इससे आनेवाली सभी आर्टिकल्स की जानकारी आपको ईमेल पर ही मिल जाएगी.

अभी के लिए इतना ही, जल्द ही मिलेंगे किसी नए topic के साथ. Keep Reading… Keep Growing…


What is BPO in Hindi? BPO क्या है? BPO vs KPO me Antar/Difference
Rate this post

About the author

MN Hemant

MN Hemant

MN Hemant is a Hindi Tech YouTuber and Blogger from Bokaro, Ranchi, Jharkhand of India. He is a Tech-Lover, heartly passionate about Smartphones, Gadgets and Future Technology.

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.