Plogging Kya Hai? Plogging ki Shuruaat Kaise Hui? Plogging ke Phayde

0
43
Plogging Kya Hai

Hi friends! क्या आपको पता है कि Plogging Kya Hai? पिछले दिनों आपने अपने देश के प्रधानमंत्री को मामल्लपुरम के समुद्र तट पर morning walk के दौरान कचरा उठाते देखा होगा.

इस गतिविधि को शेयर करते हुए उन्होंने plogging नाम दिया था. ऐसे में आपके मन में यह जिज्ञासा जरुर हुई होगी कि आखिर यह Plogging Kya Hota Hai?

तो आज मैं आपसे इसी विषय पर बात करने जा रहा हूँ कि यह क्या होता है और Plogging ki Shuruaat Kaise Hui? अगर आप भी Plogging ke Phayde जानना चाहते हैं, तो यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़ें.

Plogging Kya Hai?

फ्रेंड्स, सबसे पहले हम यह जानते हैं कि plogging का मतलब क्या है. तो मोर्निंग वाक या जॉगिंग करने के दौरान कूड़ा-कचरा उठाना ही ‘plogging’ है.

यह शब्द jogging और plocka-upp (चुनना) के मेल से बना है. ऐसा करने वाले को plogger कहा जाता है. अपने आप में plogging भी एक व्यायाम है.

Benefits of Plogging Kya Hai?

जॉगिंग या रनिंग के दौरान प्लोगगिंग करने में झुकना पड़ता है, उकडूं बैठना पड़ता है और कभी-कभी हाथ-पैर को स्ट्रेच भी करना पड़ता है.

इस प्रकार अगर हम बात करें Plogging ke Phayde के बारे में, तो plogging फिटनेस के साथ-साथ साफ-सफाई का उद्देश्य भी पूरा करती है.

Plogging ki Shuruaat Kaise Hui?

इस शब्द की उत्पत्ति का श्रेय Sweden के Erik Ahlstrom को जाता है. दरअसल, वर्ष 2016 में रोज की तरह एक दिन एरिक काम पर जा रहे थे. इसी दौरान उन्होंने रास्ते में काफी कचरा देखा, तो उन्होंने उसे उठाना शुरू कर दिया था.

बाद में उन्होंने इसे सामूहिक गतिविधि का रूप दे दिया. इसके तहत joggers & runners जॉगिंग या दौड़ते हुए कचरा बीनते जाते हैं.

Plogging Kya Hai

वर्ष 2018 में इस शब्द को वैश्विक स्तर पर स्वीकार कर लिया गया, जब कई देशों में इसे पर्यावरण की स्वच्छता के रूप में अपनाया गया, तो कहीं-कहीं तो इसके लिए कई क्लब भी बन गए. ऐसे ही कुछ क्लब अपने देश में भी चल रहे हैं.

Plogging Meaning in Hindi

पिछले दिनों Mexico शहर में plogging का वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बनाया गया था, जब एक साथ चार हजार लोगों ने plogging को अंजाम दिया था.

हालाँकि, Erik Ahlstrom के मुताबिक, भारत में भी यह बड़े पैमाने पर होता है. उनके अनुसार हजारों लोग देश के अलग-अलग हिस्सों में plogging को रोजाना अंजाम देते हैं.

इस शब्द या गतिविधि को दुनियाभर में मान्यता मिल रही है. एरिक के मुताबिक, प्लोगगिंग के दौरान कहीं ज्यादा कैलोरी खर्च होती है.

ऐसे में फिटनेस के प्रति सचेत रहने वाले इसके जरिये कैलोरी बर्न करते हुए अपने आसपास साफ-सफाई रखने में भी मदद कर सकते हैं.



Importance of Plogging in Hindi

यह तो आपको अच्छे-से समझ आ गया होगा कि Plogging Kya Hai? अब हम प्लोगिंग से जुड़े कुछ मजेदार तथ्यों के बारे में बात करते हैं.

  • Plogging स्वीडन से शुरू होकर सोशल मीडिया के माध्यम से एक आन्दोलन के रूप में पूरी दुनिया में फैल चूका है.
  • फिटनेस और पर्यावरण के प्रति उत्साही लोगों द्वारा इस आन्दोलन को अपनाया गया, जिसमें सफाई के साथ-साथ व्यायाम भी शामिल है.
  • सामान्य व्यायाम की तुलना में प्लोगगिंग के दौरान अधिक कैलोरी बर्न होती है, जिससे अधिक स्वास्थ्य लाभ होता है.
  • एरिक के अनुसार, आधे घंटे की प्लोगगिंग से कम-से-कम 288 कैलोरी कम की जा सकती है, जबकि इतने ही देर तक सिर्फ जॉगिंग करने से लोग करीब 235 कैलोरी ही कम कर पाते हैं.
  • इस प्रकार की गतिविधियों से लोगों में सफाई को लेकर जागरूकता बढ़ी है, जिससे वे अपने आस-पास भी सफाई रखने को प्रेरित हो रहे हैं.

First Plogger of India

अपने देश के पहले plogger के रूप में रिपु दमन बेवली जाने जाते हैं. फिलहाल वे अपने मिशन ‘Run to Make India Litter Free’ के तहत चर्चा में हैं.

इस मिशन के लिए वह दौड़ने के साथ-साथ भारत के 50 शहरों में साफ-सफाई रखने की कोशिश में जुटे हैं. इस अभियान की समाप्ति 3 नवम्बर को देश की राजधानी नयी दिल्ली में होगी.

Conclusion: Plogging Kya Hai?

तो फ्रेंड्स! बस यही हैं कुछ मजेदार बातें प्लोगिंग के बारे में. मुझे आशा है कि आपको यह आर्टिकल Benefits of Plogging in Hindi अच्छा लगा होगा. और अब आपको यह भी अच्छे-से पता चल गया होगा कि Plogging Kya Hota Hai?

प्लोगिंग की शुरुआत कैसे हुई और इसके फायदे से सम्बंधित अगर आपके मन में किसी भी तरह का कोई सवाल हो, तो निचे Comment कर जरुर बताएं. अगर आप इसी तरह के और Informative Blogs in Hindi पढना चाहते हैं, तो आप हमें follow कर सकते हैं.

अभी के लिए इतना ही, जल्द ही मिलेंगे किसी नए topic के साथ. Keep Reading… Keep Growing…


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here