झारखंड स्थापना दिवस 15 नवंबर को ही क्यों मनाया जाता है?

0
48
Jharkhand Sthapana Diwas

Hi Friends! क्या आपको पता है 15 November ko Jharkhand Sthapana Diwas Kyo Manaya Jata Hai? झारखण्ड भारत देश का 28 वां राज्य है. यह  राज्य खनिज सम्पदा के लिए प्रसिद्ध है. यह पहले बिहार राज्य था, बाद में बिहार से  अलग होकर एक नए राज्य बना.

सरकार से लोगों ने माँगा करने लगे कि झारखण्ड का एक अलग राज्य हो, इसी मांग को देखते हुए झारखण्ड को एक अलग राज्य का दर्जा मिल गया. और इस तरह से झारखंड बिहार से अलग हो गया.

जब से झारखंड का एक नया अलग राज्य का दर्जा मिला, तभी से यहाँ की जनता झारखण्ड स्थापना दिवस मानते हैं.

तो आज मैं आप सभी से इसी विषय पर बात करने जा रही हूँ कि Jharkhand ka Sthapana Kab Hau? अगर आपके मन में भी प्रश्न है कि 15 November ko Jharkhand Sthapana Diwas Kyo Manaya Jata Hai? तो आप यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़ें.

Jharkhand History in Hindi.

फ्रेंड्स, सबसे पहले हम बात करेंगे Jharkhand ka Name Jharkhand Kyo pada? जंगल तथा झाड़ियों का प्रदेश होने के कारण झारखण्ड नाम रखा गया है. घने जंगल –झाडी तथा पर्वत-पठार यहाँ देखने को मिलता है.

Jharkhand ka Itihas देखें तो प्राचीनकाल के 5000 साल पुराना गुफा हजारीबाग जिला में मिला है.इसके अलावा लौहे के औजार, मिटटी का अवशेष मिला और यहाँ आधुनिक काल में ईस्ट इडिया कंपनी का प्रभाव पड़ा.

Jharkhand ka Sthapana Kab Hua?

फ्रेंड्स, सबसे पहले हम बात करेंगे कि Jharkhand Rajy kab Bana? तो मैं आपको बता दूँ कि 15 नवम्बर 2000 को झारखण्ड राज्य की स्थापना हुई. बिहार का दक्षिण क्षेत्र झारखण्ड राज्य का हिस्सा बन गया. उसी दिन से झारखण्ड को एक राज्य का पूरा दर्जा मिल गया.

Jharkhand Sthapana Diwas

 Jharkhand Sthapana Diwas 15 November ko hi kyo Manaya Jata Hai?

अब हम बात करेंगे कि 15 November ko Jharkhand Sthapana Diwas Kyo Manaya Jata Hai? पहले झारखण्ड बिहार राज्य में स्थित था. बाद में बिहार से अलग होकर  झारखण्ड राज्य  की स्थापना इसी तारीख को हुई थी, इस कारण 15 नवम्बर को झारखण्ड स्थापना दिवस के रूप में मनाया जाता है.

आप सोच रहे होंगे कि 15 नवम्बर की जगह 16 नवम्बर को भी स्थापना दिवस मनाया जा सकता था. नया राज्य का दर्जा मिलने के अलावा और भी वजह है जिसके कारण इसी दिन स्थापना दिवस मनाया जाता है.

हमारे देश के आदिवासी स्वतंत्रता क्रांतिकारी Birsa Munda का जन्म भी 15 नवम्बर को ही हुआ था. उसके साथ ही ये झारखण्ड के ही निवासी थे. इनका भारत देश को आजादी दिलाने में महत्वपूर्ण योगदान रहा है. इन्होंने अग्रेजों के खिलाफ लगान/ कर के लिए विद्रोह भी किये थे. ताकि हम सभी अंग्रेजों के शोषण से बच सके.

बिरसा मुंडा देश लिए बहुत संघर्ष किये और वे अपने जान की भी प्रवाह नहीं किये. अंत में संघर्ष करते करते वे स्वर्ग सिधार गए. बिरसा भगवान के जन्मदिवस के याद में ही 15 नवम्बर को झारखण्ड स्थापना दिवस के रूप में मनाया जाता है.

Conclusion: 15 November ko Jharkhand Sthapana Diwas Kyo Manaya Jata Hai?

तो फ्रेंड्स, बस यही है Jharkhand Sthapana Diwas History in Hindi मुझे आशा है कि आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा होगा. और अब आपको अच्छे से भी समझ में आ गया होगा कि 15 November ko Jharkhand Sthapana Diwas  Kyo Manaya Jata Hai?

झारखण्ड का स्थापना कब हुआ? से सम्बंधित अगर आपके मन किसी भी तरह का कोई भी सवाल हो, तो आप हमें Comment कर जरुर बताएं. अगर आप इसी तरह के और भी Informative Blogs in Hindi पढना चाहते हैं, तो आप हमें follow कर सकते हैं.

अभी के लिए इतना ही, जल्द ही मिलेंगे किसी नए topic के साथ. Keep Reading… Keep Growing…


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here