Friendship Day ki Shuruaat Kaise Hui? Friendship Day Shayari Hindi Quotes

0
111
Friendship Day ki Shuruaat Kaise Hui

Friendship Day Shayari in Hindi: फ्रेंडशिप डे क्यों मनाते हैं?

Hi friends! क्या आपको पता है कि Friendship Day ki Shuruaat Kaise Hui? बच्चे हों या बड़े, हर किसी के जीवन में दोस्तों की एक खास जगह होती है. उनके साथ हम अपना अधिकतम समय बिताते हैं और अपनी बातें भी शेयर करते हैं.

वैसे तो काफी लोग होंगें जिन्हें मित्रता दिवस के बारे में पता न हो, लेकिन फिर भी अगर आपका सवाल है कि Friendship Day Kab Manaya Jata Hai? तो हर वर्ष अगस्त माह के पहले रविवार को हम friendship day मनाते हैं.

इस वर्ष यानि 2019 का अगस्त माह का पहला रविवार 4 August को है, यानि इसी दिन हम फ्रेंडशिप डे मनाएंगे. और अपने सोशल मीडिया एकाउंट्स में आपने इसके बारे में अभी से ही मेसेज देखते होंगे.

तो आज मैं आपसे मित्रता दिवस के बारे में थोडा डिटेल में बात करने वाला हूँ कि Friendship Day ki Shuruaat Kaise Hui? First Sunday of August ko Friendship Day Kyo Manaate Hai? अगर आप भी कुछ जबरदस्त Friendship Day Shayari Hindi Quotes के बारे में जानना चाहते हैं, तो यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़ें.

Friendship Day ki Shuruaat Kaie Hui?

फ्रेंड्स, सबसे पहले हम यह जानते हैं कि हम फ्रेंडशिप डे क्यों मनाते हैं? तो मैं आपको बता दूँ कि दोस्ती के प्रतिक के रूप में मनाये जाने वाले इस दिन की शुरुआत वर्ष 1919 में हॉलमार्क कार्ड के संस्थापक जोस हॉल के सुझाव से हुई थी.

वर्ष 1935 में पहली बार United States Congress ने अगस्त के पहले रविवार को फ्रेंडशिप डे मनाने की घोषणा की थी. इसे पहली बार अमेरिका में मनाया गया था. वर्ष 1997 में कार्टून किरदार विन्नी द पूह को संयुक्त राष्ट्र ने दोस्ती का अंतर्राष्ट्रीय दूत चुना.

आज अपने देश समेत दुनिया के कई देशों में फ्रेंडशिप डे अगस्त के पहले रविवार को मनाया जाता है, मगर दक्षिण अमेरिकी देशों में जुलाई महीने के अंत में ही फ्रेंडशिप डे मनाया जाता है. खास बात है कि United Nations भी इस दिन पर अपनी मुहर लगा चूका है.

Friendship ki Shuruaat kaise Hui

Friendship Day Story in Hindi

अब हम Friendship Day से जुडी कुछ कहानियों के बारे में बात करते हैं, ताकि हमें इसके इतिहास के बारे में कुछ पता चल सके.

कहा जाता है कि वर्ष 1919 में एक व्यापारी जोस हॉल ने इस दिन की शुरुआत की थी. जोस ने सभी लोगों के लिए एक दिन ऐसा रखा, जिसमें दो दोस्त आपस में एक-दुसरे को कार्ड देते हुए इस दिन को सेलिब्रेट कर सकें. इस खास दिन को मनाने के लिए उस व्यापारी ने दो अगस्त के दिन को चुना.

बाद में यूरोप और एशिया के बहुत से देशों ने इस परम्परा को आगे बढ़ाते हुए फ्रेंडशिप डे को मनाने का फैसला किया. फ्रेंडशिप डे से जुडी एक और कहानी और इतिहास सुनने में आता है.

बताया जाता है कि 20 जुलाई, 1958 को डॉक्टर रमन आर्तियो ने एक डिनर पार्टी के दौरान अपने दोस्तों के साथ मित्रता दिवस मनाने का विचार रखा.

Friendship Day Kyo Manaate Hai

Friendship Day Kaise Manaye?

यह तो अब आपको पता चल ही गया कि Friendship Day ki Shuruaat Kaise Hui? और हम अगस्त के पहले रविवार को ही Friendship Day Kyo Manate Hai? अब हम बात करते हैं कि आप फ्रेंडशिप डे को कैसे मना सकते हैं?

  • सबसे पहले तो आपको यह समझना होगा कि friendship day मनाने का उद्देश्य अपने दोस्त को special feel कराना है. इसके लिए आप उन्हें कुछ गिफ्ट्स दे सकते हैं और सबसे जरुरी चीज़ है समय. उनके साथ जितना हो सके अपना समय बिताएं. इससे आपको और उन्हें भी अच्छा लगेगा.
  • अपने दोस्त को आप ऐसे Photos Collage बना कर गिफ्ट कर सकते हो, जिनमें आपकी और उसके खास पल जुड़े हों. कुछ मस्ती भरे तो कुछ शैतानी भरे फोटोज का कोलाज आपके दोस्त को पसंद तो आएगा ही, साथ ही उसकी यादें ताजा हो जाएँगी.
  • Friendship Day Gift आप कोई भी चीज़ दो, लेकिन उनके साथ अपना समय जरुर बिताएं. आप कहीं शांत जगह घुमने जा सकते हो, जहाँ पर बस आप दोनों ही हों. अपने मन की बात एक-दुसरे के साथ साझा करें और थोडा एन्जॉय करें.

Friendship Day Shayari in Hindi

अब मैं आपसे कुछ Jabardast Friendship Day Shayari Hindi Quotes साझा करता हूँ, जिनके माध्यम से आप भी अपने दोस्तों को फ्रेंडशिप डे की बधाइयाँ दे सकते हो.

रिश्तो की डोर कमजोर होती है,
आंखों की बातें दिल की चोर होती है. 
खुदा ने जब भी पूछा दोस्ती का मतलब,
हमारे उंगली आपकी तरफ होती है.

क्यों मुश्किलों में साथ देते हैं दोस्त,
क्यों गम को बांट लेते हैं दोस्त.
न रिश्ता खून का न रिवाज से बंधा है,
फिर भी जिंदगी भर साथ देते हैं दोस्त.

आकाश पर निगाहें हो तेरी,
मंजिल कदम चूमे तेरी 
आज दिन है दोस्ती का 
तू सदा खुश रहे यह दुआ है मेरी.

Friendship Day ki Shuruaat Kaise Hui

कशिश भी है एक अलग खूमार भी है,
तेरे मेरे दरमियां दोस्ती है और प्यार भी है.
कितनी खूबसूरत है जिंदगी मेरी,
प्यार से दोस्ती है और दोस्त से प्यार भी है.

याद तुम्हारी ना आए, ऐसा हम होने ना देंगे
दोस्त तुम्हारे जैसा हम खोने नही देंगे
एक दो SMS करते रहना, 
वरना रात को हम सोने नही देंगे.

होगा अफ़सोस जब हम न होंगे,
तेरी आँखों से आंसू कम न होंगे.
बहुत मिलेंगे तेरे अरमानो से खेलने वाले,
लेकिन उस वक़्त तेरी परवाह करने वाले हम न होंगे.

 

Happy Friendship Day Shayari Hindi Quotes

आपसे मिलने की चाहत हमेशा रहेगी,
आपको भूलकर ये जिंदगी ना रहेगी.
आपसे हमारी दोस्ती तब तक रहेगी,
जब तक ये दुनिया सलामत रहेगी.

ऐ बारिश जरा थम के बरस,
जब मेरा यार आए तो जम के बरस,
पहले न बरस कि वो आ ना सके,
फिर इतना बरस कि वो जा ना सके.

दोस्त, आपकी दोस्ती का क्या ख़िताब दे,
करते है इतना प्यार की क्या हिसाब दे 
अगर आपसे भी अच्छा फूल होता तो ला देते,
लेकिन जो खुद गुलदस्ता हो उसे क्या गुलाब दें.

रिश्तों से बड़ी चाहत क्या होगी,
दोस्ती से बड़ी इबादत क्या होगी,
जिसे दोस्त मिल जाये आप जैसा,
उसे जिंदगी से शिकायत क्या होगी.

Friendship Day Shayari in Hindi

दोस्ती हर चहरे की मीठी मुस्कान होती है
दोस्ती ही सुख दुख की पहचान होती है
रूठ भी गऐ हम तो दिल पर मत लेना
क्योकि दोस्ती जरा सी नादान होती है!

ज़िन्दगी हर पल खास नहीं होती,
फूलों की खुशबू हमेशा पास नहीं होती,
मिलना हमारी तकदीर में लिखा था वरना,
इतनी प्यारी दोस्ती कभी इतेफाक नहीं होती.

आसमान हमसे अब नाराज है,
तारों का गुस्सा बेहिसाब हैं,
वो सब हमसे जलते है
क्योंकि, चाँद से बेहतर दोस्त हमारे पास हैं.

Conclusion: Friendship Day ki Shuruaat Kaise Hui?

तो फ्रेंड्स! बस यही है Some Stories of Friendship Day History in Hindi. मुझे आशा है कि आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा होगा और अब आपको यह भी अच्छे-से समझ में आ गया होगा कि Friendship Day Kyo Manate Hai?

वैसे एक जरुरी बात, आप भी तो मेरे दोस्त ही हो. आपको भी मित्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं. Happy Friendship Day to You All.

Friendship Day ki Shuruaat Kaise Hui? इससे सम्बंधित अगर आपके मन में किसी भी तरह का कोई सवाल हो, तो निचे Comment कर जरुर बताएं. अगर आप इसी तरह के और Informative Blogs in Hindi पढना चाहते हैं, तो आप हमें follow कर सकते हैं.

अभी के लिए इतना ही, जल्द ही मिलेंगे किसी नए topic के साथ. Keep Reading… Keep Growing…


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here