E-way Bill Kya Hai? कैसे बनाएं E-way Bill in Hindi

3
169
E-way Bill Kya Hai in Hindi

E-way Bill Kya Hai? पूरी जानकारी

Hi friends! क्या आपको पता है कि E-way Bill Kya Hai? पुरे देश में GST के लागू हो जाने के बाद वस्तुओं की आपूर्ति यानि supply के लिए एक राज्य से दुसरे राज्य में transport permit के स्वरूप में भी बदलाव किया गया है. अब इसे नए रूप में E-way Bill कहा जाता है यानि इलेक्ट्रॉनिक स्वरूप में परमिट बनवाना.

आपमें से कुछ लोग शायद इसके बारे में कहीं सुने भी होंगे, लेकिन आपको ई-वे बिल के बारे में पूरी जानकारी नहीं होगी. जैसे कि E-way Bill Kya Hai, E-way Bill Kaise Banaye? Validity of E-way Bill in Hindi और E-way Bill Rules क्या-क्या हैं?

तो आज मैं आपसे इसी विषय पर बात करने जा रहा हूँ कि E-way Bill Kya Hai, E-way Bill Kaise Banate Hain यानि E-way Bill Kaise Generate Kare? अगर आप भी E-way Bill Kya Hai? इसके बारे में जानना चाहते हैं, तो यह आर्टिकल E-way Bill in Hindi अंत तक जरुर पढ़ें.

E-way Bill Kya Hai?

फ्रेंड्स, सबसे पहले हम यह जानते हैं कि आखिर यह ई-वे बिल क्या है? तो आपको पता होगा कि किसी भी उत्पाद को राज्य के अन्दर या बाहर ले जाने के लिए पहले transport permit की जरूरत होती थी. लेकिन अब GST लागु हो जाने के बाद सरकार ने transport permit को electronic स्वरूप प्रदान किया है. इसे E-way Bill के नाम से जाना जाता है.

E-way Bill Kya Hai Sample Challan

सामानों की ढुलाई (transportation of goods) एक राज्य से दुसरे राज्य में हो या एक ही राज्य के अन्दर एक स्थान से दुसरे स्थान पर हो; तो पहले सरकार को Online Registration करके बताना होगा और इसके लिए E-way Bill Generate करना अनिवार्य हो गया है.

इसे भी पढ़ें: Income Tax Return Online File Kaise Kare?

E-way Bill Rules in Hindi

अब आपको पता चल ही गया होगा कि E-way Bill Kya Hai? अब हम इसके कुछ नियम-कानूनों के बारे में बात करते हैं. तो ई-वे बिल में सप्लायर, ट्रांसपोर्ट और प्राप्तकर्ता का विवरण दिया जाता है.

  • जिस वस्तु की ढुलाई हो रही है अगर उसकी कीमत 50 हजार से अधिक है तो उसके ट्रांसपोर्ट के लिए E-way Bill जेनरेट करना अनिवार्य है.
  • E-way Bill में दूरी के अनुसार दिन भी निर्धारित किया गया है. 100 किमी की दूरी तय करने के लिए एक दिन की सीमा तय की गयी है.
  • इसके बाद प्रत्येक 100 किमी की दुरी तय करने पर एक-एक दिन की समय-सीमा बढती जाएगी. यानि 101 से 200 किमी की दूरी के लिए दो दिन, 201 से 300 किमी की दूरी के लिए तीन दिन आदि.

Intra & Inter-State E-way Bill Kya Hai?

ई-वे बिल बनाने समय आपको Intra-State E-way Bill और Inter-State E-way Bill नाम सुनने को मिल सकता है. आसान भाषा में कहें तो राज्य के अन्दर ही सामानों को transport करने के लिए Intra-State E-way Bill बनेगा.

Inter State E-way Bill Kya Hai

वहीं राज्य के बाहर यानि अन्य राज्यों में वस्तुओं को भेजने या मंगाने के लिए इंटर स्टेट E-way-bill बनवाना होगा. तो यह आपके transportation पर निर्भर करता है कि आपको कौन-सा ई-वे बिल बनाना होगा.

एक जरुरी बात मैं आपको बता दूँ कि अगर सामान को एक राज्य से दुसरे राज्य में पहुंचाने के दौरान सामान ढोने वाली गाडी दुर्घटनाग्रस्त हो जाती है, तो उस सामान को दूसरी गाडी में ट्रान्सफर करने के बाद एक New E-way Bill Generate करना होगा.



Generate E-way Bill Kya Hai?

अब आपके मन में एक सवाल जरुर होगा कि E-way Bill Kaise Banaye, E-way Bill Kaise Generate Kare? तो अगर आप इसके बारे में अच्छी तरह से समझाना चाहते हैं, तो आपको पहले यह जानना होगा कि E-way Bill Kam Kaise Karta Hai?

जब विक्रेता E-way Bill को GSTN portal पर upload करेंगे तो एक unique E-way Bill Number (EBN) generate होगा. यह EBN Number सप्लायर, ट्रांसपोर्ट और सामान पाने वाले, तीनों के लिए होगा. वे इस नंबर को GSTR-1 form में विवरण देने के समय इसका उपयोग कर सकते हैं.

E-way Bill Generate होने के 72 घंटे के अंदर ही वस्तुओं के प्राप्तकर्ता को सामान को स्वीकार करने की अपनी सहमति या असहमति दर्ज करनी होगी. अगर वह ऐसा नही करता है तो 72 घंटे के बाद यह मान लिया जायेगा कि सामान स्वीकार कर लिया गया है.

एक और जरुरी बात मैं आपको बताना चाहूँगा कि E-way Bill Generate करने के 24 घंटे के अन्दर उसे रद्द किया जा सकता है.

Generate E-way Bill Kya Hai

E-way Bill Transporter Responsibilities in Hindi

मैंने आपको E-way Bill Rules in Hindi के बारे में पहले ही बता दिया है. अब हम ट्रांसपोर्टर की जवाबदेही के बारे में बात करते हैं.

  • अगर किसी कारण से क्रेता या विक्रेता ई-वे बिल नहीं बनाते हैं और सामान की कीमत 50 हज़ार से अधिक है तो ट्रांसपोर्टर की जवाबदेही होती है कि वह प्राप्त challan, bill की कॉपी या invoice के आधार पर E-way Bill Generate करेगा.
  • सामान को एक जगह से दुसरे जगह तक ट्रान्सफर करने से पहले ट्रांसपोर्टर को E-way-bill में आवागमन की जानकारी अपडेट करना होगा.
  • अगर ट्रांसपोर्टर एक ही गाड़ी से बहुत से वस्तुओं को ले जाना चाहता है, तो उसे प्रत्येक वस्तु के ई-वे बिल को दर्ज करना होगा.

E-way Bill Online Registration Kaise Kare?

अभी तक आपको E-way Bill Kya Hai? इसके बारे में काफी जानकारी मिल गई है. अब आपका एक सवाल जरुर होगा कि E-way Bill Online Generate Kaise Kare?

तो जैसे मैंने पहले ही बताया है कि यह GST के साथ जुड़ा हुआ है; इस कारण जीएसटी में पंजीकृत व्यक्ति के लिए और गैर-पंजीकृत व्यक्ति के लिए अलग पंजीकरण प्रक्रिया है. अब मैं आपको एक-एक कर दोनों प्रक्रोयों के बारे में विस्तार से बताता हूँ.



GST Registered E-way Bill Kaise Banaye?

E-way Bill के लिए बिलकुल ही अलग web portal बनाया गया है. जीएसटी में पंजीकृत व्यक्ति को भी E-way Bill Official Website (https://ewaybill.nic.in) पर अपना पंजीयन करना अनिवार्य है.

E-way Bill Kya Hai Online Registration

अपने GSTN को डालकर उसे प्राप्त ओटीपी के माध्यम से सत्यापित करना होगा. इसके बाद यूजर आईडी व पासवर्ड बना सकते है. जब आपको E-way Bill User ID & Password मिल जाए, फिर E-way Bill Login करके अपना ई-वे बिल बहुत ही आसानी से बना सकते हैं.

Non-GST Registered & Transporter E-way Bill Kaise Banaye?

अब बात करते हैं कि गैर-पंजीकृत व्यक्ति और ट्रांसपोर्टर किस तरह ई-वे बिल पंजीकरण कर सकते हैं.

  • E-way Bill portal पर अपना PAN Card विवरण देकर पंजीकरण कर सकते है.
  • आधार में पंजीकृत मोबाइल नंबर पर ओटीपी जायेगा, जिसे सत्यापित करना होगा.
  • उपयोगकर्ता अपने व्यवसाय से जुडी जानकारी देना होगा.
  • E-way Bill पोर्टल पर अपना User ID & Password बना सकते हैं.

E-way Bill Online Generate Kaise Hoga?

अब आपको E-way Bill Generate करने के लिए E-way Bill User ID & Password मिल गया है. अब ई-वे बिल बनाने के लिए जो online form उपलब्ध कराये गये हैं, वह दो हिस्सों में बंटा होता है.

पहला हिस्सा Part-A के नाम से जाना जाता है. इसमें सप्लायर व प्राप्तकर्ता की पूरी जानकारी, ढुलाई की जानेवाली वास्तु का मूल्य, कहाँ से कहाँ तक ढुलाई की जाएगी एवं ट्रांसपोर्ट के साथ जो दस्तावेज दिए जाएंगे उसकी पूरी जानकारी देनी होती है. वही दुसरे हिस्से को Part-B कहा जाता है. इसमें सामान की ढुलाई के लिए तय किए गए वाहन की जानकारी देनी होती है.



E-way Bill Generate Kaun Karega?

GST लागू हो जाने के बाद इस दौर में सामान की ढुलाई शुरू होने के पहले ही E-way Bill Generate करना अनिवार्य है. इसमें अलग-अलग प्रावधान दिए गए हैं कि किस परिस्थिति में Kaun E-way Bill Generate Karega?

  • अगर सामान की सप्लाई बिक्री करने के लिए हो रही है और सामान की कीमत 50 हज़ार से अधिक है, तो supplier, transporter या प्राप्तकर्ता कोई भी E-way Bill Generate कर सकता है.
  • किसी अन्य कारण से सामन की ढुलाई के समय अगर सामान की कीमत 50 हज़ार से अधिक है, तो भी supplier, transporter या recipient में से कोई भी ई-वे बिल बना सकता है.
  • गैर-पंजीकृत सप्लायर से पंजीकृत प्राप्तकर्ता तक ढुलाई के समय अगर सामान की कीमत 50 हज़ार से अधिक है, तो पंजीकृत प्राप्तकर्ता ही E-way Bill Generate कर सकता है.
  • गैरपंजीकृत सप्लायर से गैरपंजीकृत प्राप्तकर्ता की स्थिति में किसी भी कीमत की वस्तु पर गैरपंजीकृत सप्लायर या ट्रांसपोर्टर को ई-वे बिल जेनरेट करना होता है.
  • Handicraft सामानों का inter-state transfer की स्थिति में किसी भी कीमत की वस्तु पर हेंडीक्राफ्ट सप्लायर को E-way Bill Generate करना होगा.

Conclusion: E-way Bill Kya Hai?

तो फ्रेंड्स! बस यही है ई-वे बिल के बारे में पूरी जानकारी. मुझे आशा है कि आपको यह आर्टिकल E-way Bill in Hindi अच्छा लगा होगा. और अब आपको यह समझ में आ गया होगा कि E-way Bill Kya Hai, E-way Bill Kaise Banaye?

What is E-way Bill in Hindi? E-way Bill Generate Kaise Hota Hai? इससे सम्बंधित अगर आपके मन में किसी भी तरह का कोई सवाल हो, तो निचे Comment कर जरुर बताएं. अगर आप इसी तरह के और Educational Articles in Hindi पढना चाहते हैं, तो आप हमारे Email Newsletter में अपना Email ID दे सकते हैं. इससे आनेवाली सभी आर्टिकल्स की जानकारी आपको ईमेल पर ही मिल जाएगी.

E-way Bill Kya Hai? इसके बारे में और अधिक जानकारी के लिए आप निचे दी हुए YouTube Video को भी देख सकते हैं.

अभी के लिए इतना ही, जल्द ही मिलेंगे किसी नए topic के साथ. Keep Reading… Keep Growing…


3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here