Children’s Day 2019 : बाल दिवस 14 नवंबर को ही क्यों मनाया जाता है?

0
15
Children's Day ki Shuruaat Kaise Hui

Hi friends! क्या आपको पता है कि Children’s Day ki Shuruaat Kaise Hui? चिल्ड्रेंस डे यानी बच्चों का दिन। एक ऐसा दिन जो पूरी तरह बच्चों के नाम होता है। 

आप भी इस दिन enjoy करने का कोई मौक़ा नहीं छोड़ते होंगे। मैं आपको बता दूँ कि Children’s Day सिर्फ़ भारत में ही नहीं, पूरी दुनिया में मनाया जाता है। 

यहाँ तक कि कई देशों में चिल्ड्रेंस डे को official holiday घोषित किया गया है और कई देशों में इस दिन बच्चों को स्कूल से छुट्टी मिल जाती है। इस हॉलिडे का इस्तेमाल बच्चों के अधिकारों जैसे उनकी सेहत, शिक्षा, बाल मज़दूरी आदि के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए किया जाता है।

लेकिन क्या आप जानते हैं कि Children’s Day ki Shuruaat Kaise Hui? अगर आप भी यह जानना चाहते हैं कि India me 14 November ko Children’s Day Kyo Manaya Jata Hai? तो यह आर्टिकल अंत तक ज़रूर पढ़ें।

Children’s Day ki Shuruaat Kaise Hui?

मैं आपको बताना चाहूँगा कि सबसे पहले यूनाइटेड नेशंस ने 1945 में International Children’s Day की शुरुआत की थी। 

इस दिन की शुरुआत करने का उद्देश्य यह था कि अलग-अलग देशों के बच्चे इस ख़ास दिन के माध्यम से एक दूसरे से जुड़ सकें और उनके बीच आपसी समझ और एकता को बढ़ावा मिल सके। 

साथ ही इस दिन लोगों के बीच बच्चों के अधिकारों और उनकी सुरक्षा के लिए लोगों को जागरूक करने का भी काम किया जाता है। इस उद्देश्य के साथ यूनाइटेड नेशंस ने 20 नवम्बर को Universal Children’s Day मनाने की शुरुआत की। 

साथ ही उन्होंने सभी देशों से अपील की कि वे अपनी परम्पराओं, संस्कृति और धर्म के अनुसार भी अपने लिए कोई एक दिन सुनिश्चहित करें, जो बच्चों को समर्पित हो। इसके बाद से सभी देशों में चिल्ड्रेंस डे मनाने की परम्परा शुरू हुई। 

शुरुआत में लगभग सभी देशों में यह 20 नवम्बर को ही मनाया जाता था। लेकिन धीरे-धीरे अपनी सुविधानुसार सभी देशों में इसे अलग-अलग दिन मनाया जाने लगा।

Children's Day ki Shuruaat Kaise Hui

India me 14 November ko Children’s Day Kyo Manate Hai?

अपने देश में भी पहले बाल दिवस 20 नवम्बर को ही मनाया जाता था। लेकिन वर्ष 1964 में देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरु के निधन के बाद इसे उनके जन्मदिन 14 नवम्बर को मनाने की शुरुआत की गयी। 

ऐसा इसलिए किया गया, क्योंकि नेहरु जी ने अपने प्रधानमंत्री रहते हमेशा बच्चों के लिए ख़ूब काम किया। उनका मानना था कि बच्चे ही देश का भविष्य हैं, इसलिए देश के भविष्य को बेहतर बनाने के लिए बच्चों को अच्छी शिक्षा और सभी ज़रूरी अधिकार मिलना ही चाहिए.

उन्होंने आज़ादी के बाद अनेक स्कूल बनवाए और कई Children’s Welfare Programs भी पूरे देश में चलवाए। बच्चे भी उनसे बेहद प्यार करते थे और उन्हें चाचा नेहरु कहते थे। इसलिए उनके जन्मदिन को बाल दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया गया।

Conclusion: Children’s Day ki Shuruaat Kaise Hui?

तो फ़्रेंड्स, बस यही है चिल्ड्रेंस डे मनाने के बारे में पूरी जानकारी। मुझे आशा है कि आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा होगा और अब आपको यह भी अच्छे-से पता चल गया होगा कि Children’s Day ki Shuruaat Kaise Hui?

India me 14 November ko Children’s Day Kyo Manaya Jata Hai? इससे सम्बंधित अगर आपके मन में किसी भी तरह का कोई सवाल हो, तो नीचे Comment कर ज़रूर बताएँ। अगर आप इसी तरह के और Informative Blogs in Hindi पढ़ना चाहते हैं, तो आप हमें follow कर सकते हैं।

अभी के लिए बस इतना ही, जल्द ही मिलेंगे किसी नए topic के साथ। Keep Reading… Keep Growing…


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here