Brain Tumor Kya Hai? ब्रेन ट्यूमर क्यों होता है? ब्रेन ट्यूमर का लक्षण एवं इलाज

0
18
Brain Tumor Kya Hota Hai

Hi Friends! क्या आपको पता है Brain Tumor Kya Hota Hai? ब्रेन ट्यूमर बहुत ही गंभीर बीमारी होता है. ट्यूमर अपना असर तब दिखाना शुरू करता है जब हमारे मस्तिष्क के मुख्य भाग में कोशिकाओं का गुच्छा बन जाता है.

जब ये कोशिकाओं की गांठे ब्रेन के स्कल या खोपड़ी पर दबाव डालना शुरू करती है या फिर जिस क्षेत्र में सेल की गुच्छा बन रही हैं, उस भाग की कार्यप्रणाली को बाधित कर देती हैं, तभी हमें सिरदर्द, चक्कर आना,  जैसी अनेक तरह की परेशानियाँ होनी शुरू हो जाती हैं.

अगर समय रहते Brain Tumor का समुचित इलाज नहीं कराते हैं, तो यह आपके लिए बहुत समस्या है. ये ट्यूमर जानलेवा भी साबित हो सकती है.

तो, आज मैं आपसे इसी के बारे में बात करने जा रही हूँ कि Brain Tumor Kya Hota Hai? अगर आपके मन में भी सवाल है कि Brain Tumor Kyo Hota Hai? और आप सोच रहे हैं कि  Brain Tumor ka Ilaj Kya Hai in Hindi? तो आप यह आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़ें.

Brain Tumor in Hindi

फ्रेंड्स, सबसे पहले हम बात करेंगे कि Brain Tumor Kya Hai? ब्रेन ट्यूमर नाम से ही पता चलता है कि मस्तिष्क में फोड़ा या गांठ जैसा होता होगा.

मस्तिष्क में जब कोशिकाएं (Cells) असामान्य रूप से विकसित होती हैं, जिसके कारण ब्रेन में गाँठ बन जाती है, कोशिका का यही गांठ ब्रेन ट्यूमर के नाम से जाना जाता है.

Brain Tumor Kyo Hota Hai?

अब हम बात करेंगे कि आखिर Brain Tumor Kis Karan Hota Hai? वैज्ञानिकों का कहना है कि ब्रेन ट्यूमर की मुख्य वजह Radiation है. इसके संपर्क में रहने से ही ब्रेन ट्यूमर होता है.

  • जैसे मोबाइल फ़ोन का अधिक इस्तेमाल, Radioactive चीजों के संपर्क में रहना आदि ट्यूमर के लिए जिम्मेदार हो सकते हैं.
  • इनसे Brain cells प्रभावित होते हैं, जो धीरे-धीरे ट्यूमर का रूप ले लेते हैं.
  • हमारे आसपास के वातावरण में मौजूद Virus और खान-पान में इस्तेमाल किये जाने वाले chemicals भी ब्रेन ट्यूमर का कारण बन सकते हैं.
  • ये हमारे मुहं या साँस के माध्यम से शरीर में प्रवेश करते हैं और शरीर तथा मस्तिष्क की कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाते हैं.
  • ब्रेन ट्यूमर आनुवंशिक कारणों से भी हो सकता है. जैसे माता-पिता में से किसी एक को Brain Cancer है, तो उसका असर बच्चों पर भी पड सकता है.
  • हालाँकि ये कोशिकाएं (cells) जीन में मौजूद नहीं होते, लेकिन कुछ असामान्य सेल्स में जरुर होते जो ब्रेन ट्यूमर की शुरुआत के लिए जिम्मेदार हो सकते हैं.

Brain Tumor Kya Hota Hai

Brain Tumor Kitane Prakar ke Hote Hai?

ब्रेन ट्यूमर दो तरह के होते हैं. एक (none cancer) बिनाइन जो कैंसर नहीं होता है और दूसरा (malignant ) या कैंसरयुक्त होता है.

बिनाइन ट्यूमर धीरे-धीरे बढ़ता है, पर ब्रेन के दूसरे हिस्से में नहीं फैलता. इस ट्यूमर के सेल्स को medicine या सर्जरी से हटाया जा सकता है. इनके  दुबारा होने की आशंका कम होती है.

जबकि malignant tumor के सेल्स काफी तेजी से फैलते हैं. ये ब्रेन के दुसरे हिस्सों, यहाँ तक की रीढ़ की हड्डी, Brest, Lungs और दुसरे अंगों तक भी फैल जाते हैं.

सर्जरी उपचार के बाद भी इनके दुबारा होने की आशंका बनी रहती है. इन सेल्स को मेटास्टेटिक ब्रेन ट्यूमर सेल्स भी कहा जाता है.



Brain Tumor ke Lakshan in Hindi

Brain Tumor Kya Hota Hai? ये जानने के बाद आपके मन सवाल होगा कि Brain Tumor ka Lakshan Kya Hota Hai? ट्यूमर के लक्षण ब्रेन के हिस्से, ट्यूमर के आकार और प्रकार पर निर्भर करता है.

ब्रेन ट्यूमर के कुछ सामान्य लक्षण इस तरह के होते हैं जिनसे मरीज अंदाजा लगा सकते हैं और बिना किसी देरी किये डॉक्टर को संपर्क कर सकते हैं.

  • सुबह के समय सिर में तेज दर्द होना और कुछ समय बाद बराबर दर्द रहना.
  • और सुबह के समय जी मिचलाना, उल्टियाँ आना, कमजोरी महसूस होना आदि.
  • शरीर में संतुलन बनाने में परेशानी, चलते समय लडखडाना, हाथ पैर का बार-बार संवेदना शून्य होना, हाथ-पैर की मसल्स में एंठन होना.
  • कम या धुंधला दिखाई देना, color blindness.
  • बोलने सुनने में परेशानी, कानों में हमेशा ही कुछ आवाज सुनाई देना.
  • दौरे पड़ना, चक्कर आना, बेहोश हो जाना, चिडचिडापन होना.
  • खाने-पीने में परेशानी तथा याददाश्त कमजोर होना.

Brain Tumor ka Ilaj in Hindi

ब्रैन ट्यूमर कैसे होता है? के बाद आप सोच रहे होंगे कि Brain Tumor ka Ilaj Kya Hota Hai? ब्रेन ट्यूमर के मरीज की सबसे बड़ी परेशानी यह है कि शुरूआती दिनों में इसका आसानी से पता नहीं चलता है.

मरीजों को इसका पता ट्यूमर होने के एक- दो साल के बाद लगता है. ऐसे मरीज ब्रेन ट्यूमर की गंभीर अवस्था में चिकित्सक के पास जाते हैं, जिसके कारण इन्हें बचा पाना बहुत मुश्किल होता है.

  • डॉक्टर सबसे पहले मरीज की family history जाँच करते है, जिससे यह पता लग सके कि brain tumor का कारण आनुवांशिक तो नहीं है.
  • Medical test में मरीज का कॉन्फिडेंस लेवल, देखने-सुनने –बोलने की क्षमता, खाने-पीने में दिक्कत, शारीरिक संतुलन, ब्रेन ट्यूमर की जाँच के लिए CT Scan, एमआरआई, एमआर स्पेक्ट्रोस्कोपी, एनजिओग्राफी, स्पाइनल टेप आदि की जाती है.
  • सिटी स्कैन ब्रेन ट्यूमर को पहचानने का सबसे प्रभावी तरीका है. इस स्कैन से ब्रेन का X-ray लिया जाता है.
  • इनसे न केवल ट्यूमर के स्टेज का पता चलता है, बल्कि यह भी पता चलता है कि Tumor को निकलना संभव है या नहीं.


Brain Tumor ko Kaise Thik Kare?

आप सभी जान ही,गए होंगें कि Brain Tumor Kya Hota Hai? इस गंभीर बीमारी के बारे में जानने के बाद आपके मन में एक सवाल होगा कि Brain Tumor se Kaise Bache?

  • ट्यूमर से बचाव के लिए हमें शारीरिक और मानसिक व्यायाम करना चाहिए.
  • प्राणायाम जैसे योगासन करना फायदेमंद होता है, इससे ब्रेन को oxygen की संतुलित मात्रा प्राप्त होती है.
  • इसके अलावा हमें अपने दिनचर्या में भी ध्यान रखना चाहिए जैसे- नींद पूरी लें तथा तनाव से दूर रहें.
  • Alcohol या Drugs जैसे नशीले पदार्थ का सेवन न करें.
  • पौष्टिक और संतुलित आहार लें, जंक फ़ूड से दूर रहें एवं अधिक मात्रा में पानी पिएँ.

Conclusion: Brain Tumor Kya Hota Hai in Hindi.

तो फ्रेंड्स, बस यही है Brain Tumor Ilaj in Hindi. मुझे आशा है कि आपको यह आर्टिकल अच्छा लगा होगा. और अब आपको अच्छे से पता चल गया होगा कि Brain Tumor Kyo Hota Hai?

Brain Tumor ko Thik Kaise Kare? से सम्बंधित अगर आपके मन में किसी भी तरह का कोई भी सवाल हो, तो आप हमें निचे Comment कर जरुर बताएं. अगर आप इसी तरह के और भी Health Blogs in Hindi पढना चाहते हैं, तो आप हमें follow कर सकते हैं.

अभी के लिए इतना ही, जल्द ही मिलेंगे किसी नए topic के साथ. Keep Reading… Keep Growing…


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here